Tuesday, February 16, 2010

ज्योतिषियों की सलाह पर चलती जिंदगी

साइंस और टैक्नोलॉजी के इस युग में भी छोटे से लेकर बड़े-बड़े निर्णय ज्योतिषियों से पूछ कर ही लिए जा रहे हैं। बड़ी-बड़ी कॉपरेरेट कंपनियां नए ऑफिस के लिए जगह खरीदने से पहले, भूमि-पूजन, बिल्डिंग का निर्माण, नए ऑफिस में शिफ्ट होने से पहले ज्योतिषियों और वास्तु विशेषज्ञों की राय लेना नहीं भूलतीं। ऑफिस का कलर कंबीनेशन, फर्नीचर, बॉस के बैठने की जगह आदि सबकुछ वास्तु विशेषज्ञ और ज्योतिषि ही तय करते हैं।

टेस्ट और फैशन की दुनिया में भी ज्योतिषियों की घुसपैठ है। यही नहीं कुछ लोग रोगों का निवारण भी ज्योतिषि की सलाह पर कर रहे हैं। इस भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग अपने खान-पान और सेहत की तरफ प्रॉपर ध्यान नहीं दे पाते। यही कारण है कि उनका विश्वास ज्योतिषियों पर दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है।

लोगों की ड्रैस तक ज्योतिषि तय कर रहे हैं। हर न्यूज चैनल से लेकर अखबारों में पंडितों की राय के न्यूज पैकेज दिए जा रहे हैं। इसमें राशियों के हिसाब से इंसान की पसंद के खान-पान, ड्रैस, रंग और कई ऑस्पैक्ट बताए जा रहे हैं। इंटरव्यू और एग्जाम के लिए ड्रैस भी ज्योतिषि डिसाइड कर रहे हैं।

राशि के हिसाब से खरीदें ड्रैस
मुंबई का लाइफ स्टाइल चेने स्टोर्स एक ऐसा बुकलेट तैयार कर रहा है, जिसमें लोगों की राशि के हिसाब से ड्रैस कलर दिए गए हैं। इसमें 27 डिजाइनर, ज्योतिषियों से सलाह-मशवरा करके ड्रैसेज तैयार कर रहे हैं। पंडित विनय जेतली का कहना है कि मीन राशि के लोगों को पीले, सफेद और लाल रंग के परिधान पहननें चाहिए। वहीं वृश्चिक राशि के लोगों के लिए लाल और पीले परिधान सेहत के लिए बिलकुल ठीक रहेंगे।

सिंह राशि के लोग नारंगी, पीले और गेहूं रंग के परिधान धारण करे, तो ये उनकी सेहत और स्वभाव का भी ध्यान रखते हैं। इसी तरह हर राशि के लोगों के लिए अलग-अलग परिधानों को पहनने से उनकी नकारात्मक किरणों का प्रभाव कम रहता है और पॉजीटिव एनर्जी मिलती है।

पार्टनर का चुनाव राशि के आधार पर
ज्योतिषि परषोतम साहनी ने बताया कि आजकल बिजनेस पार्टनर का चुनाव भी राशि के आधार पर किया जा रहा है। बिजनेस शुरू करने से पहले वे इस बात का पता करते हैं कि किस राशि से संबंधित व्यक्ति से उनमें आपसी तालमेल के साथ बिजनेस में मुनाफा होगा।

विदेश जाने से पहले लेते हैं सलाह
पंडित लक्ष्मी नारायण का कहना है कि विदेश में सेट होने और बिना रुकावट विदेश पहुंचने के लिए लोग पहले उनसे सलाह लेते हैं कि ग्रह-नक्षत्रों के हिसाब से वह किस दिन और किस समय घर से निकलें, ताकि कारोबार के साथ-साथ उनकी विदेश यात्रा भी सफल रहे। पंडित विजय कुमार भोला ने बताया कि उनके पास ऐसे बहुत से लोग आते हैं जो अपने करियर और जॉब को लेकर सलाह लेते हैं। इनमें कई बड़े स्तर के अधिकारी भी शामिल हैं।

मैडिकल एस्ट्रोलॉजी से बीमारी दूर
मैडिकल एस्ट्रोलॉजर रचना शर्मा ने बताया कि 15 साल से मैडिकल एस्ट्रोलॉजी करते हुए उन्होंने कई लोगों को ठीक किया है। उन्होनें बताया कि दिल की नसें ब्लॉक होने वालों को सनेबहराव पहनना चाहिए। जिन लोगों का ब्लड प्रैशर लो है, उन्हें तांबे का कड़ा पहनना चाहिए, किडनी की बीमारी वालों को दाना फिंरग चांदी में डालकर पहनने से काफी आराम मिलेगा। अस्थमा के पेशेंट्स को सुच्चा मोती और पन्ना पहनना चाहिए।

अल्सर ठीक हो गया
अमित ने बताया कि उन्हें अल्सर था। मैडिकल एस्ट्रोलॉजर की सलाह पर उन्होंने सफेद मूंगा और सुच्चे मोती को धारण किया, जिससे उन्हें काफी आराम मिला। अब वह बिलकुल ठीक हैं।

हाउस वाइफ अनीता ने बताया कि उनकी एक फ्रैंड ने जब उन्हें बताया कि राशि के हिसाब से आजकल ज्योतिषि ड्रैस कलर का सुझाव देते हैं, तो उन्होंने भी काफी समय से ज्योतिषि की सलाह पर ही ड्रैस कलर चूज करना शुरू किया। इससे उन्हें काफी फायदा भी मिला है।

No comments:

Post a Comment